Full History Of Google in Hindi- गूगल का पूरा इतिहास

Google को आज कौन नहीं जानता, पूरी Internet की दुनिया मे ये एक जाना माना Search Engine और Brand Name है। Google को तो सभी जानते हैं लेकिन इसकी History बहुत कम लोगों को पता है के ये कैसे शुरू किया गया और इसके पीछे का इतिहास क्या है।इस आर्टिकल में आपको Full History of Google को Hindi में बताया गया है, ये आर्टिकल पूरा पढ़ने के बाद आप दूसरों को इसके बारे मे बता सकते हैं।

The History Of Google in Hindi



Table of Content (toc)


गूगल का Mission Statement ये है की, "To organize the world information and make it universally accessible and useful" कुछ कंपनियां अपने मिशन के साथ-साथ गूगल के Mission को भी फॉलो करती हैं। आइए अब नीचे Full History of Google को Hindi मे देखते हैं।

ये भी पढ़ें- Life insurance और Health insurance में क्या अंतर है।

Full-Form of Google

GOOGLE का पूर्ण रूप Global Organization of Oriented Group Language of Earth है। गूगल एक अमेरिकी कंपनी है जिसे आमतौर पर एक खोज इंजन के रूप में जाना जाता है। गूगल का आधिकारिक रूप से पूर्ण रूप (Full Form) नहीं है; यह शब्द "Gogol" से उत्पन्न हुआ है, जिसका अर्थ है, एक बहुत बड़ी संख्या 1 जिसके बाद सौ 0 है। Google Inc एक अमेरिकी आधारित बहुराष्ट्रीय निगम है। वर्तमान में, यह इंटरनेट से संबंधित सेवाओं और उत्पादों में सबसे लोकप्रिय खोज इंजन है।

The History Of Google in Hindi

Larry Page and Sergey Brin की मुलाकात 1995 में Stanford University में हुई थी जब सर्गेई छात्रों के एक समूह को मिशिगन विश्वविद्यालय से अपने सप्ताहांत के दौरे पर लैरी को दिखाने का काम सौंपा गया था।

यह 7 सितंबर, 1998 की तारीख थी। इवेंट, Stanford University के दो छात्र, Larry Page and Sergey Brin, एक कंपनी जिसे उन्होंने जनवरी 1996 में एक शोध परियोजना के हिस्से के रूप में शुरुआत किया था। कंपनी को पहले निजी तौर पर शामिल किया गया था उसके बाद कंपनी को 4 अगस्त 2004 को Public किया गया। वही से Google की History अब शुरू हो चुकी थी।

Larry Page and Sergey Brin ने ये सोच कर गूगल बनाया कि अलग अलग वेबसाइटों के बीच Analyze करने वाले एक खोज इंजन को बेहतर Result मिल सकते हैं फिर वर्तमान में मौजूद तकनीकें, जो अनिवार्य रूप से खोज शब्द पर दिखाई देने वाली संख्या के अनुसार Result के हिसाब से एक पेज पर Rank करती हैं। 

इस तथ्य के कारण शुरुआत में इसे Backrub कहा, क्यूंकि सिस्टम ने वेबसाइट के Importance का अनुमान लगाने के लिए Backlink का उपयोग किया। हालाँकि दुनिया मे कंपनी (गूगल) ने अपना नाम एक खोज इंजन के रूप में बनाया, और इसकी आय का अधिकांश हिस्सा विज्ञापन से आता है, क्योंकि इसने क्लाउड कंप्यूटिंग, सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर जैसे कई क्षेत्रों में अपनी पहचान बनाई है।

वर्ष 2004 में, Google ने अपनी मुफ्त वेब-आधारित ईमेल सेवा, Gmail शुरू की और 2005 में, इसने गूगल Earth और गूगल Maps पेश किए। गूगल ने Android, मोबाइल उपकरणों के लिए एक खुला मंच और गूगल Chrome ब्राउज़र भी पेश किया है।

छोटे व्यवसायों को लाभ पहुंचाने के लिए अपने ऐडवर्ड्स पैकेज के ओवरहाल के साथ, AOL ने गूगल को नंबर एक खोज इंजन (Search Engine) का नाम दिया था और अपनी खोज और विज्ञापन का उपयोग गूगल के साथ करने का निर्णय लिया।

ये भी पढ़ें - Magadh University का इतिहास और इसके नाम और काम का सच 


When Google Adwords Started?

साल 2000 में, गूगल ने कुछ Monthly Fees के साथ अपना विज्ञापन निर्माण, AdWords लॉन्च किया। Google ने दोनों को सेट अप करने और फिर ग्राहक के Advertising Campaign का प्रबंधन करने की पेशकश की। AdWords अपने Campaign Keyword के महत्वपूर्ण Factors को परिभाषित करने में सक्षम है। 

जब विज्ञापन (Advertisement) पहली बार यह निर्धारित करने के लिए बनाया जाता है कि कोई ग्राहक pay-per-click का भुगतान करेगा और दिए गए Bid के हिसाब से ये भी सुनिक्षित किया जाता है के Ads के Eligible होने पर ये कितना रैंक करेगा। इस Google Ads की मदद से Business को Promote करने का ये एक अच्छा प्लेटफॉर्म बन गया।

गूगल ने स्वच्छ और सरल डिज़ाइन Elements को एक नए स्तर पर पर लाकर खड़ा किया। Text Based विज्ञापनों को इसके लिए धन्यवाद देना चाहिए के, गूगल बेकार और Uncluttered Page की जगह सिम्पल डिजाइन को महत्व दिया ताकि Page Loading Speed अच्छी हो सके। Google के सरल डिजाइन ने Loyal Internet Users की एक बड़ी आबादी को जल्दी से आकर्षित किया।

Full History of Google in Hindi

How Google Search Engine Works?

गूगल द्वारा दी जाने वाली Web search Engines इसकी सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती थीं और निभाती रही हैं। कंपनी अपने Search Engine Optimization कार्यक्रम के लिए Page Rank का उपयोग करती है। पेजरैंक Hyperlink किए गए दस्तावेजों (Web Page) को Numerical Weight देने के लिए Algorithms का एक सेट है। इसका उद्देश्य सेट के भीतर सापेक्ष महत्व (Relative importance) को मापना है। 

Google द्वारा प्रदान किए गए दिशानिर्देशों के एक सेट का पालन करके, Webmasters यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि Google के Web crawlers उनकी वेबसाइटों को खोजने, Index करने और Rank करने में सक्षम हैं। Page Rank Google का एक Registered Trademark है।

गूगल अपनी सफलता और लोकप्रियता का श्रेय Page rank को देता है। अपने Search Engine के लिए High Ranking प्राप्त करने के लिए अपमानजनक तकनीकों का उपयोग करने से वेबमास्टर्स को रोकने के लिए कंपनी Page को Rank करने के लिए उपयोग किए जाने वाले Algorithms का खुलासा नहीं करती है। 

हालाँकि, Google यह स्वीकार करता है कि पेजरैंक एक Link Analysis Algorithm पर चलता है। पेजरैंक बाकी सभी Search Engine Optimization तकनीकों से अलग था क्योंकि इसमें प्रत्येक Page की संख्या और उसके Link की Quality के आधार पर ग्रेड दिया गया था।

नए Product Development, अधिग्रहण और साझेदारी की एक श्रृंखला के माध्यम से, Google ने अपने Initial Search और Advertising Business को अन्य क्षेत्रों में विस्तारित किया है, जिसमें Web Based Email, Online Mapping, Office Productivity, Mobile and Software Development और वीडियो साझाकरण शामिल हैं।

Conclusion

Google की लोकप्रियता दिन ब दिन बढ़ती ही जा रही है। भारत मे तो लोग मज़ाक मे इसे गूगल बाबा भी कहने लगें हैं आखिर क्यूँ न हो सारी चीजों का जवाब गूगल के पास होता ही है। चाहे कोई वो किसी भी Language मे सर्च करे चाहे कोई Hindi मे सर्च करे या English में या Urdu में ये गूगल बाबा आपको आपका जवाब देकर ही मानते हैं। ये आपको बिना कोई Grammar की गलती के हर तरह की News से लेकर Article तक Books से लेकर University तक India से लेकर Abroad तक की जानकारी की details निकाल कर दे देता है।

Full History Of Google को Hindi मे बताने का कारण ये है के for beginners और student's जो इस गूगल का बखूबी इस्तेमाल करते हैं। गूगल का translation और गूगल Pay money की account सर्विस काफी इस्तेमाल किया जाता है। इसकी हिस्ट्री English मे तो काफी इंटरनेट पर मिलती है लेकिन लोग इसकी History को Hindi में भी इस आर्टिकल के द्वारा जान सकेंगें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.