Mutual Fund Kya Hai - Best Mutual Funds को जानें

What is Mutual Fund in Hindi:- क्या आपने कभी Phrase "पैसा बनाने के लिए पैसे लगाना पड़ता है" सुना है? संभावना है कि आपके सुना हो, लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह कैसे करना है? इसका एक तरीका, म्यूचुअल फंड में Invest कर उस पैसे को ज्यादा बढ़ाना है!

Mutual Fund उन लोगों के लिए एकदम सही हैं जो वहां निवेश करना चाहते हैं, एक विविध Portfolio बनाए रखते हुए एक सुरक्षित, आसान तरीका है। निवेश के सुनहरे नियमों में से एक कहता है: जब आप अपने निवेश में विविधता (Diversify) लाते हैं तो आप अपने Return को खोए बिना अपने Risk को कम करते हैं। यही म्युचुअल फंड करता है। इस आर्टिकल जिसका शीर्षक What is Mutual Fund जिसको Hindi में अच्छे से समझाया गया है।

What is Mutual Fund in Hindi


Table of content (toc)


Mutual Fund Kya Hai?

बहुत सारे Investor से पैसे इकट्ठे करके एक Fund बनाकर उसको अलग अलग Investment Portfolio बना कर लाभ कमाने की परक्रिया को Mutual Fund कहा जाता है। Mutual Fund कई निवेशकों से Stock, Bond, Money Market Instruments और अन्य Assets जैसे Securities में Invest करने के लिए धन वितरित करने की एक प्रणाली है। Mutual Fund पेशेवर Fund Managers द्वारा संचालित होते हैं, जो Fund की संपत्ति आवंटित (Allocate) करते हैं और Fund के निवेशकों (Investors) के लिए पूंजीगत लाभ (Capital Gains) या आय (Income) का उत्पादन करने का प्रयास करते हैं।

म्युचुअल फंड बाजार ने हाल के वर्षों में जबरदस्त लोकप्रियता हासिल की है क्योंकि इसमें उत्पादों की एक विस्तृत श्रृंखला है जो एक विविध निवेशक प्रोफ़ाइल के अनुकूल है। प्रत्येक फंड में Securities का एक विविध Portfolio होता है जो विभिन्न Industries और Sectors में किए निवेश (Invest) को दर्शाता है। यह एक पेशेवर Fund Manager द्वारा Manage किया जाता है हर Fund House (AMC) के अलग अलग Fund Manger होते हैं जो Fund यानि आपके पैसों को अपने हिसाब से Invest करते हैं ताके आपको लाभ हो सके। What is Mutual Fund इसके बारे में आप Hindi भाषा में आसानी से समझ गए होंगे, अब नीचे इसके फायदे भी जान लेते हैं।


What are the Benefits of Mutual Funds?

Mutual Fund में निवेश करने के ये फायदे (Benefits) हैं के इसमे आपके पैसे जल्दी बढ़ते हैं अच्छे पर्सेन्ट के साथ Grow करते हैं जिससे आप अपने Financial Goal को आराम से प्राप्त कर सकते हैं और इसमे Risk भी Normal Share Market के मुकाबले कम होता है। जब कोई निवेशकों के बड़े समूह Mutual Fund में कब निवेश करते है जब एक Investor व्यक्तिगत Stocks में Invest करने के लिए तैयार नहीं है, या व्यक्तिगत Bond या Fixed Income वाले Instrument में निवेश करने में सहज नहीं हैं।

आपको ये सलाह दी जाती है की Mutual Fund में Invest करने से पहले कम से कम कुछ वर्षों का Financial Experience होना उचित है। उदाहरण के लिए, यदि आप अभी अपना निवेश करियर शुरू कर रहे हैं, तो कम से कम Risk वाले निवेश वाले Mutual Fund से शुरुआत करना सबसे अच्छा है। आपके लिए किस प्रकार का म्यूचुअल फंड सही है, इसके लिए आपको अपना Goal और Goal की समय सीमा निर्धारित करना जरूरी है इसके बाद आप अपने Financial Advisor से संपर्क कर सकते हैं।


ये भी पढ़ें-   Life Insurance और Health Insurance में क्या अंतर है?


Types Of Mutual Funds

आपने ऊपर दो बड़े सवाल का जवाब Hindi में पढ़ा एक- What is Mutual Fund और दूसरा- Benefits of Mutual Funds अब इसके Types को भी जान लेते हैं। ऐसे कई प्रकार के Mutual Funds हैं जिनमें आप Invest कर सकते हैं एक बात का ध्यान रखें के कोई भी Mutual Fund का चुनाव अपनी Risk Capacity और Financial Goal को देख कर ही करें। इनके लिस्ट नीचे दिए गए हैं:-

Equity Funds:-

Equity ऐसे Mutual Funds हैं जो कंपनियों के Equity Shares/शेयरों में Invest करते हैं। ये High Risk वाले फंड माने जाते हैं लेकिन High Return भी प्रदान करते हैं। Equity Fund में कुछ Industry के नाम है- इंफ्रास्ट्रक्चर, फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स और बैंकिंग जैसे स्पेशलिटी फंड शामिल हो सकते हैं। वे बाजारों से जुड़े हुए हैं और मार्केट के उतार चढ़ाओ से जुड़े होते हैं।

Debt Funds:-

ये ऐसे Fund हैं जो Debt Instruments में Invest करते हैं E.g.- कंपनी डिबेंचर, सरकारी बांड और अन्य निश्चित आय संपत्ति। इन्हें सुरक्षित निवेश माना जाता है और निश्चित Return प्रदान करते हैं। अगर आपके Risk लेने की क्षमता कम है तो Experts इस Debt Fund को चुनने की सलाह देते हैं।

Balanced or Hybrid Funds:-

जैसा के नाम से पता चल रहा है ये एक Balanced Fund है जो कई तरह के एसेट क्लास में निवेश करते हैं जैसे कुछ पर्सेन्ट Equity में और कुछ Debt में। कुछ मामलों में, Equity का अनुपात Debt की तुलना में अधिक होता है जबकि अन्य में यह विपरीत होता है। इस तरह से Risk और Return को संतुलित (Balanced) किया जाता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि Debt Market, Equity Market की तुलना में कम Risk प्रदान करते हैं। जिससे Fund की Diversity बनी रहती है।

Liquid funds:-

इन Liquid Funds मे योजनाओं के तहत, पैसा मुख्य रूप से Short Term या Very Short Term साधनों में Invest किया जाता है, जैसे Liquidity प्रदान करने के उद्देश्य से टी-बिल, सीपी आदि। उन्हें मध्यम Return के साथ कम Risk वाला माना जाता है और Short Term निवेश समय सीमा वाले Investors के लिए आदर्श होते हैं।

Tax-Saving Funds (ELSS):-

ये ऐसे Funds हैं जो मुख्य रूप से Equity Shares में Invest करते हैं। इन फंडों में किए गए निवेश Income Tax Act के तहत कटौती के योग्य हैं। उन्हें Risk पर उच्च माना जाता है, लेकिन अगर फंड अच्छा प्रदर्शन करता है तो High Return भी मिलता हैं।

Pension Funds:-

ये लंबे समय के Investment के लिए होते हैं। इस तरह के फंड में निवेश को Equity और Debt Market के बीच विभाजित किया जा सकता है, जहां इक्विटी उच्च रिटर्न प्रदान करने वाले निवेश के जोखिम भरे हिस्से के रूप में कार्य करते हैं और डेट मार्केट जोखिम को Balanced करते हैं और कम लेकिन स्थिर Return प्रदान करते हैं। इन Funds से रिटर्न एकमुश्त, Pension या दोनों के संयोजन के रूप में लिया जा सकता है।

Gilt Funds:-

Gilt Fund वैसे म्यूचुअल फंड होते हैं जहां फंड को लंबी अवधि के लिए Government Securities में Invest किया जाता है। चूंकि उन्हें सरकारी प्रतिभूतियों में निवेश किया जाता है, वे वस्तुतः Risk Free होते हैं और उन लोगों के लिए आदर्श निवेश हो सकते हैं जो Risk नहीं लेना चाहते हैं।


How to Invest in a Mutual Fund?

म्यूचुअल फंड के साथ, आप एक ऐसे फंड में कम से कम 100 Rupees का निवेश कर सकते हैं जो आपकी ज़रूरतों को पूरा करने के लिए कई तरह के निवेश विकल्प प्रदान करता है। आप चाहें तो Monthly SIP या Lumpsum से भी Invest कर सकते हैं, जब निवेश साधनों की बात आती है तो म्यूचुअल फंड के पास कई विकल्प होते हैं, इसलिए Mutual Funds की आपकी पसंद वास्तव में आपकी जरूरतों और Financial Goals पर निर्भर करती है।

How to invest in Mutual Fund


बहुत सारे एप भी उपलब्ध हैं जैसे GrowwZerodha आदि आप उनपर रजिस्टर करके Mutaul Fund में इन्वेस्ट कर सकते हैं आप चाहें तो जिस Mutual Fund House (AMC) में Invest करना चाहें वहाँ से Online या Offline तरीका से कर सकते हैं। आपके पास Pan Card, Bank Account का Cheque होना अनिवार्य है।


ये भी पढ़ें-  Google का पूरा इतिहास क्या है पढ़ें। 


The Disadvantages of Mutual Funds

Mutual Fund किसी भी अन्य निवेश के समान हैं: Risk और Income होने के अलावा, वे कुछ स्पष्ट Downside के साथ आते हैं। Mutual Finds का सबसे बड़ा नुकसान, विशेष रूप से संस्थागत म्यूचुअल फंड, यह है कि वे पेशेवरों द्वारा बेचे जाते हैं, जिन्हें आप खरीदते या बेचते समय कमीशन या शुल्क का भुगतान करते हैं। Individual Securities के विपरीत Mutual Fund में Invest के बीच यह सबसे बड़ा अंतर है।

यह भी मुख्य कारण है कि Individual Security में प्रत्यक्ष निवेश की तुलना में म्यूचुअल फंड अधिक महंगे हो सकते हैं। जब आप म्युचुअल फंड में निवेश करते हैं, तो आप एक संस्थागत या संस्थागत रूप से प्रबंधित खाते के हिस्से के रूप में भी ऐसा कर रहे होते हैं। यह पारंपरिक Stock निवेश की तुलना में Mutual Funds को कुछ महंगा बना सकता है। क्यूनकी आप अपने पैसे दूसरे के भरोसे छोड़तें हैं और कोई और यानि Fund Manager अपने हिसाब से आपके पैसे को Invest करता है।


Best Mutual Funds in India

बाजार में कई अलग-अलग प्रकार के Mutual Fund उपलब्ध होने के कारण, विशिष्ट निवेश आवश्यकताओं के लिए सबसे उपयुक्त किसी एक को चुनना आसान काम नहीं है। इस संबंध में सबसे सरल सलाह दी जा सकती है कि पहले अपनी जरूरतों को समझें। अगला कदम यह पता लगाना होगा कि आपका लक्ष्य क्या है? क्या यह धन का निर्माण जल्दी, मध्यम गति से या धीमी गति से करना है।

एक बार यह तय हो जाने के बाद अंतिम मुख्य बात जिस पर विचार करना है वह वह जोखिम है जिसे आप लेने को तैयार हैं। सबसे अधिक Risk वाले फंडों से आने वाले Highest Return को सामान्य रूप से देखा जाता है। इसलिए यदि आप जल्दी से रिटर्न चाहते हैं और जोखिम लेने को तैयार हैं तो आपको यह फंड चुनना चाहिए। यदि आपका उद्देश्य धीरे-धीरे धन का निर्माण करना है तो Medium या Low Risk वाले Mutual Fund में जाना सही है। नीचे कुछ अच्छे Mutual Funds दिए गये हैं:-

  • Axis Bluechip Fund, Direct-Growth
  • Mirae Asset Large Cap Fund, Direct-Growth
  • Axis Midcap Fund, Direct-Growth
  • SBI Small Cap Fund, Direct-Growth
  • SBI Equity Hybrid Fund, Direct-Growth
  • Kotak Standard Multicap Fund, Direct-Growth
  • Canara Robeco Bluechip Fund, Direct-Growth
  • Axis Small Cap Fund, Direct-Growth
  • Kotak Dynamic Bond Fund, Direct-Growth
  • Tata Digital India Fund, Direct-Growth


Conclusion

ऊपर दिए गए सारे information कोई Financial advice नहीं है ये आर्टिकल What is Mutual Fund को Hindi में लिखने का मकसद ये है के आपको इसके बारे में आसानी से समझ या सके और आप अपने Hard Earned Money को सही जगह पर Invest कर सकें। आपको ये ध्यान रखना जरूरी है की आपको किसी भी Mutual Fund में Invest करने से पहले अपनी Risk सहने की क्षमता और Financial Goal को जरूर जांच लें और उस Fund के बारे में जरूर Research कर लें और अपने Financial Advisor से सलाह भी जरूर लें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.